Tik Tok Bharat Mein Ban Hoga Ya Nhi?

हैलो दोस्तो आज हम बात करने वाले हैं कि Tik Tok भारत होगा कि नहीं, टिकटोक के बारे में 5 ऐसे के बारे में बताने वाले हैं कि टिकटोक को भारत में बैन कर देना चाहिए।

हम लोगों ने देखा लगभग 1 साल पहले भी भारत सरकार ने टिकटोक के डाउनलोडिंग पर बैन लगा दिया था लेकिन कुछ समय बाद tik tok india की टीम ने कुछ वीडियो रिमूव करके और एफिडेविड दाखिल करके फिर से उसकी पर लगे बैन को हटवा दिया था और भारत सरकार ने इस पर लगो बैन को हटा दिया था।

            एक बार फिर tik tok को बैन करने की मांग चरम सीमा पर है। अब तो हमारे बाबू भइया ने भी twite  किया है कि tik tok को बैन कर देना चाहिए। लगभग 5 दिन तक twitter पर #tiktokban, और #tiktokbaninindia जैसे #tag top trending पर थे।

चलिए दोस्तो अब हम 5 आपको ऐसी कमी बताते हैं, जिनको पढने के बाद आप भी कहोगे कि टिकटोक को बैन हो जाना चाहिए।

  1. Algorithm
  2. Copywrite content
  3. Vulgarity video
  4. Age criteria
  5. No dislike button
  6. Algorithm
TIK TOK BHARAT MAIN BAN HOGA YA NHI
TIK TOK BAN
  1. Algorithm:-

टिकटोक का Algorithm एक दम बकवास है जिस वीडियो को टिकटोक चाहेगा वही वीडियो अपने फार यू पेज पर दिखाता है, चाहे उस वीडियो में कितनी भी अभद्र भाषा का प्रयोग किया गया हो, जो टिकटोक चाहे वह उसी वीडियो को फार यू पेज पर लाता है।

जबकि  YouTube का algorithm ऐसा नहीं है एगर आप YouTube पर search करते हैं कि technical तो YouTube का algorithm technology से related videos ही आपको suggest करेगा नाकि कोई buety tips और cooking video

  1. Copyright content:-

Tik top पर कॉपीराइट कंटेंट का कोई issue ही नहीं है, चाहे आप किसी के भी डायलॉग या म्यूजिक पर वीडियो बना लो मैंने टिक टॉक पर देखा है कि कोई पापुलर क्रिएटर कोई एक वीडियो बना देता है तो सारे टिक टोकर उसी म्यूजिक या उसी डायलॉग पर वीडियो बनाने लगते हैं जो कि कॉपीराइट इश्यू है लेकिन टिक टॉक में कॉपीराइट कंटेंट का कोई इशू ही नहीं है इससे आप अपने टैलेंट को भी नहीं निखार सकते क्योंकि इसमें आपको कॉपी पेस्ट ही करना है।

  1. Vulgarity content:-

टिक टॉक पर मैंने काफी ऐसी वीडियोस भी देखी है, जो कि वल्गर हैं। जिन वीडियो को सोशल प्लेटफार्म पर नहीं होना चाहिए। वह वीडियो भी टिक टॉक पर हैं रेप प्रमोटेड वीडियो,सेक्सुअल वीडियो भी आपको इस प्लेटफार्म पर मिल जाएगीं जोकि नहीं होनी चाहिए थी।

  1. Age criteria:-

इस ऐप में ऐज का कोई क्राइटेरिया ही नहीं हैं। 4-5 साल के लडके-लडकियां भी इस ऐप को यूज कर रहें हैं। और तो और 6-7 साल के लडके-लडकियां भी गर्लफ्रेंड बॉयफ्रेंड वाली वीडियो बना रहे हैं, और उनकी लैंग्वेज भी एकदम लैला मजनू वाली होती है,इस एज में अपनी पढाई पर ध्यान देना चाहिए। चलो मान लो ये तो नादान बच्चे हैं लेकिन उनके पेरेंट्स भी इन वीडियोस को रिकॉर्ड करने में उनकी सहायता कर रहे हैं पता नहीं यह टिक टॉक क्या-क्या करवा के मानेगा।

  1. NO dislike button:-

टिक टॉक पर डिसलाइक का बटन ही नहीं है। अगर कोई टिकटोकर कोई वीडियो अपलोड करता है। तो उस वीडियो को वियूएर डिसलाइक कर ही नहीं सकता, क्योंकि इसमें डिसलाइक का बटन ही नहीं है। मान लो कोई टिक टॉकर ऐसी वीडियो बना देता है जो समाज या देश के लिए सही नहीं है तो उसके फॉलोअर उसे डिसलाइक कर ही नही सकते। इससे उस टिक टोकर की हिम्मत बढ़ जाएगी और फिर वह बार-बार ऐसी वीडियो बनाता रहेगा।

हेलो दोस्तों आज हमने आपको इस ब्लॉग में आपको टिक टॉक की ऐसी पांच कमियां बताई। जिनको पढ़कर आपको भी लगेगा कि टिक टोक को भारत में बैन कर देना चाहिए। अगर आप लोग भी चाहते हैं, कि टिक टॉक भारत में बैन हो जाए तो इस ब्लॉग को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें और कमेंट करें।

जय हिंद जय भारत

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *